मिले सुर, मेरा तुम्हारा… के साथ स्वर कोकिला लता जी को दी गई

श्रद्धांजलि छत्तीसगढ़ साहित्य समिति ने कवि पं. दानेश्वर शर्मा के निधन पर किया शोक व्यक्त राजनांदगांव। भारत की सुर साम्राज्ञी, भारतरत्न, कोकिल कंठी, लता मंगेशकर के निधन पर गहरा दुख…
Read More

तीज – पोरा

गीत
No Comments
तीजा – पोरा नई आवँव बेटी एसो लिहे बर तीजा पोरा ..     कोरोना के आतंक छाय हे ,             बइरी ह मुहू लमाय हे…
Read More

रक्षाबंधन पर गीत (कोरोना काल और लाकडाउशन को महसूस करते हुए )

सावन का महीना आया है, खुशियाँ साथ लाया है    भाई-बहनों का प्यार, रक्षाबंधन आया है   मायके मै कैसे आऊँ,कोरोना ने मुश्किल बढ़ाया है    सरकार ने लाकडाऊशन कराया…
Read More

छत्तीसगढ़ की एक घुमंतू जाति *देवार* द्वारा गाए जाने वाला गीत

    // देवारगीत //     —————–   रामे रामे रामे रामे… जी… हरि…   सुन देवारिन… रामे..रामे..जी…हरि…।   सुनि लेबे मोर बात देवारिन ,   गउकिन ये नो…
Read More

देवार करमा (गीत)

अईसे मांदर बजा दे गा मंदरिहा, मैहा नाच उठंव कनिहा लचका के ।   मैहा नाच उठंव कनिहा लचका के,  मैहा नाच उठंव कनिहा मटका के ।   नाचा अऊ…
Read More

संगीत साधक स्व.खुमान साव जी को युवा कलाकारों ने अपनी सुरमई श्रद्धांजलि दी।

संगीत साधक स्व.खुमान साव जी को युवा कलाकारों ने अपनी सुरमई श्रद्धांजलि दी।संगीत साधक, अप्रतिम संगीतकार स्व.खुमान साव जी को समीप ग्राम-मुसरा के युवा कलाकारों ने अपनी सुरमई श्रद्धांजलि दी।आयोजन…
Read More
Menu