जन्म से लेकर मरत तक घुस देवत म जिन्दगी पहा जाथे

हमर देश ह अंग्रेज मन के 200 साल तक गुलाम रहिस हावय, लेकिन ओ समय म नियम कानून कायदा डर भैय रिती रिवाज तको हर अति रहिस हावय। कोनो कुछु…
Read More

शाश्वत सत्य के पथ-प्रदर्शक गुरु

आज के संदर्भ में ‘गुरुपूर्णिमा’ का महत्व इसलिए भी बढ़ जाता है क्योंकि दुनिया भौतिकता के पीछे पागलों की तरह दौड़ रही है। ‘आध्यात्मिकता’ से पलायन ही ‘भौतिकता’ की शुरूआत…
Read More

छत्तीसगढ़ अउ संत कबीर 

हमर देश के संस्कृति अउ सभ्यता ह सदा ले अब्बड़ समृद्ध रिहिस हे. धन -धान्य ले संपन्न भारत ह” सोना के चिड़ियाँ कहलाय. ये सोन रुपी चिरई ल लूटे बर…
Read More

पेड़ों में लटकाएं सुराही बनाएं पक्षियों का घोसला

मनुष्य के तन-मन-धन सबको संवारने में पक्षी परिवार का अतिमहत्वपूर्ण योगदान होता है।जन्मजात विविध क़िस्म के पक्षी मानव मित्र होते हैं।फलों,फसलों में लगे कीड़ों मकोड़ों को खाकर वे न केवल…
Read More

छत्तीसगढ़ बनाने में कलाकारों की क्रांतिकारी भूमिका

विचार राज्याश्रय से कलाजगत की बढ़ोतरी छत्तीसगढ़ को कला -साहित्य की दृष्टि से समृद्धि धरा के रूप में राष्ट्रीय- अंतरराष्ट्रीय जगत में ख्याति मिली हुई है। यहां के कलाकार साहित्यकार,…
Read More

हमर देसी फिरिज–करसा

अब तो गरमी घलो नंगत के बाढ़ गेहे। सबो जीव धारी मन बर पानी अभी के बेरा म अब्बड़ जरूरी होथे। फेर कहूं-कहूं पानी के अब्बड़ तकलीफ घलो हो जाथे।…
Read More

सामाजिक योगदान में हमारी सहभागिता

हमारे समाज में व्यक्ति निर्माण की दिशा में साहित्य की अहम भूमिका होती है। साहित्य स्वच्छ मस्तिष्क की उपज होती है। मनुष्य का मस्तिष्क और मन ताजगी लिए विचारों को…
Read More

गरमी म चिरई-चिरगुन बर पानी…

अब गरमी ह दिनों दिन नंगत के बाढ़त हे। अइसन बेरा म नदी,नरवा, तरिया अउ कई ठन पानी के नान्हें-नान्हें सरोत मन घलो ठकठक ले सूखा हो जथे। कतको जीव-जंतु,गाय-गरवा, चिरई-चिरगुन संग सबे जीव मन…
Read More

अमरकंटक में हुई सार्थक संगोष्ठी

“बकरकट्टा के बैगा और उनका देवलोक” गंडई पंडरिया- जनजातीय लोककला एवं बोली विकास अकादमी ,संस्कृति परिषद भोपाल द्वारा दिनांक 06 मार्च 2022 को इंदिरा गांधी राष्ट्रीय जनजातीय विश्वविद्यालय अमर कंटक…
Read More

छत्तीसगढ़ बनाने में कलाकारों की क्रांतिकारी भूमिका

विचार राज्याश्रय से कलाजगत की बढ़ोतरी छत्तीसगढ़ को कला -साहित्य की दृष्टि से समृद्धि धरा के रूप में राष्ट्रीय- अंतरराष्ट्रीय जगत में ख्याति मिली हुई है। यहां के कलाकार साहित्यकार,…
Read More
Menu