रक्षाबंधन पर गीत (कोरोना काल और लाकडाउशन को महसूस करते हुए )


सावन का महीना आया है, खुशियाँ साथ लाया है 

भाई-बहनों का प्यार, रक्षाबंधन आया है
 
मायके मै कैसे आऊँ,कोरोना ने मुश्किल बढ़ाया है 

सरकार ने लाकडाऊशन कराया है 

पर चिंता मत करना भाई, 

दौड़ के आऊँ मै बहना

राखी से कलाई सजाऊंगी,

सोशल डिस्टेन का पालन करूंगी

मुँह में मास्क लगाऊंगी,

सेनेट्राइजर हाथ में लगाऊंगी

हाथ साबुन से बार-बार धोऊंगी,

रक्षाबंधन का त्यौहार मनाऊंगी

छत्तीसगढ़ की पहचान,धान की राखी बनाई हूँ 

धान की राखी बाधूंगी, 

छत्तीसगढ़ की शान बढ़ाऊंगी, 

छत्तीसगढ़ की बेटी हेमा कहलाऊंगी 

सावन का महीना आया है, खुशियाँ साथ लाया है 

भाई-बहनों का प्यार रक्षाबंधन आया है 
               


                              स्वरचित
                              हेमा साहू 
                     भिलाई(9993683169)

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां