छत्तीसगढ़ी गीत लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैंसभी दिखाएं
छत्तीसगढ़ का प्रसिद्द लोकगीत  *ददरिया*
 रिलोगीत - छत्तीसगढ़ का जनजातीय विवाह गीत
सावन के बदरा
माटी के दाई बर हरियर लुगरा
सवनाही गीत -  आगे हे सावन लागय मन भावन।
छत्तीसगढ़ी गीत *आगे हरियर हरेली*
छत्तीसगढ़ी गीत - दिवाना बना डारे रे मीठ मीठ भाखा ल बोल के
छत्तीसगढ़ी गीत - सजना मोर जइसे पवन चले, हितवा मोर जइसे नदिया बहे
छत्तीसगढ़ी गीत - जिवलेवा घाम जरय जेठ बइसाख के।  बटोहिया रे  अगौर लेते ना।
आगे असाढ़ गिरत हे पानी चूहत हे घर के छानही
 छत्तीसगढ़ी गीत - मैं माटी महतारी अंव